26 दिसंबर का भारत और विश्व का इतिहास December History of India and World

आज के दिन जन्मे व्यक्ति


1716 आज के दिन 18 वीं शताब्दी के प्रसिद्ध अंग्रेजी कवि थॉमस ग्रे का जन्म हुआ 
1899 देश की आजादी के लिए अपना सब कुछ न्योछावर करने वाले अमर शहीद उधम सिंह का जन्म हुआ 1929 प्रसिद्ध गुजराती साहित्यकार तारक मेहता का जन्म हुआ 
1935 प्रसिद्ध भारतीय महिला समाज सेवी माबेला अरोल का जन्म हुआ 
1948 आज के दिन प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता प्रकाश आमटे का जन्म हुआ 
1998 वैदिक परंपरा के प्रमुख बुद्धिजीवी रामस्वरूप का जन्म हुआ


आज के दिन हुआ निधन



1801 शर्ट भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के प्रसिद्ध क्रांतिकारी और समाजशास्त्री भूपेंद्रनाथ दत्त का निधन हुआ 1966 स्वतंत्रता सेनानी और पंजाब के प्रथम मुख्यमंत्री तथा गांधी स्मारक निधि के प्रथम अध्यक्ष गोपीचंद भार्गव का निधन हुआ 
1976 हिंदी के प्रसिद्ध कथाकार और निबंध लेखक यशपाल का निधन हुआ 
1986 भारत की प्रसिद्ध महिला क्रांतिकारी बीना दास का निधन हुआ 
1989 भारत के प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट के शंकर पिल्लई का निधन हुआ 
1999 भारत के नौवें राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा का निधन हुआ 
2015 हिंदी कविता के प्रसिद्ध कवि पंकज सिंह का निधन हुआ


आज की महत्वपूर्ण घटनाएं



1904 देश की पहली क्रास कंट्री मोटर कार रैली का उद्घाटन दिल्ली से मुंबई के बीच हुआ 
1925 आज के दिन भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना की गई 
1925 आज ही के दिन ग्रेगोरियन कैलेंडर को तुर्की में अपनाया गया 
1977 पूर्वी कजाख क्षेत्र में सोवियत संघ ने परमाणु परीक्षण किया
1978 आज ही के दिन भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को जेल से रिहा किया गया 
1997 आज ही के दिन बीजू जनता दल उड़ीसा की प्रमुख पार्टी की स्थापना वरिष्ठ राजनेता बीजू पटनायक के पुत्र नवीन पटनायक ने की 
2002 डेमोक्रेटिक रिपब्लिक आफ कांगो में फिर से संघर्ष शुरू होने की सूचना संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने दी 2003 ईरान के दक्षिणी पूर्वी शहर में 6.6 रिएक्टर तीव्रता वाले भूकंप ने भारी तबाही मचाई 
2004 श्रीलंका भारत इंडोनेशिया थाईलैंड मलेशिया मालदीव और आसपास के क्षेत्रों में 9.3 तीव्रता वाले भूकंप से 230000 लोगों की मौत हो गई 
2006 टेस्ट क्रिकेट में 700 विकेट लेकर संवाद ने इतिहास रच दिया 
2007 इराकी कुर्द ठिकानों पर तुर्क विमानों ने हमला शुरू कर दिया
2012 चीन की राजधानी बीजिंग से ग्वांगझू शहर तक बनाए गए दुनिया के सबसे लंबे हाई स्पीड रेल मार्ग को आज ही के दिन खोल दिया गया

Post a Comment

0 Comments