इतिहास में 17 अक्टूबर का महत्व


17 अक्टूबर 1817 में अलीगढ़ ओरिएंटल कॉलेज के संस्थापक सर सैयद अहमद खान का जन्म हुआ
17 अक्टूबर 1986 व्यक्तिगत और का व्यापक ढंग से व्यावहारिक वेदांत को पढ़ाने के लिए विख्यात हिंदुओं के धार्मिक नेता स्वामी रामतीर्थ का निधन हो गया
17 अक्टूबर 1870 को कोलकाता के बंदरगाह को संवैधानिक निकाय प्रबंधन के तहत लाया गया
17 अक्टूबर 1818 को वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन ने ऑटोग्राफ के पेटेंट के लिए आवेदन किया था
17 अक्टूबर 1912 में ऑटोमन साम्राज्य के खिलाफ बुलगारी या यूनान और सरवैया ने लड़ाई लड़ी
17 अक्टूबर1917 प्रथम विश्व युद्ध में पहली बार जर्मनी पर ब्रिटेन ने हवाई हमले किए
17 अक्टूबर 1933 वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन नाजी जर्मनी से अमेरिका चले गए
17 अक्टूबर 1936 हिंदी के प्रसिद्ध साहित्यकार दूधनाथ सिंह जी का जन्म हुआ
17 अक्टूबर 1941 द्वितीय विश्व युद्ध में पहली बार अमेरिकी पोत पर जर्मन की एक पनडुब्बी ने हमला किया
17 अक्टूबर 1955 हिंदी फिल्मों की प्रसिद्ध अभिनेत्री स्मिता पाटिल का जन्म हुआ
17 अक्टूबर 1970 पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कप्तान अनिल कुंबले का जन्म हुआ
17 अक्टूबर 1979 शांति के लिए मदर टेरेसा को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया
17 अक्टूबर 2003 चीन ने अंतरिक्ष में एशिया के पहले देश के रूप में मानव भेजने में सफलता प्राप्त की और 17 अक्टूबर उसके बाद चीन तीसरा ऐसा देश था जिसने अंतरिक्ष में मानव भेजने में सफल हुआ
17 अक्टूबर 2003 पाकिस्तान के राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ की हत्या की साजिश रचने वाले तीन आरोपियों को न्यायालय ने 10 वर्ष की जेल की सजा सुनाई
17 अक्टूबर 2008 निजी एयरलाइंस किंगफिशर और जेड एवरेज के गठबंधन को लेकर एकाधिकार प्रतिबंधित व्यापार आयोग ने जांच के आदेश दिए